खोज

Vatican News
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर  (AFP or licensors)

काथलिक युवा अधिक एकजुट एवं भाईचारापूर्ण होने के लिए बुलाये जाते हैं

यूरोपीय संघ के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष कार्डिनल होलरिक ने याद दिलाया है कि युवा यूरोप के भविष्य ही नहीं वर्तमान भी हैं। युवा काथलिक यूरोप में अधिक एकजुट एवं भाईचारापूर्ण होने के लिए बुलाये गये हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

यूरोप, मंगलवार, 21 सितम्बर 2021 (रेई)- यूरोपीय संघ के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन (कोमिचे) द्वारा जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि यूरोप के युवा काथलिकों से एकजुटता, भाईचारा और सम्मान जैसे मूल्यों पर आधारित एकता की आपेक्षा की जाती है। दस्तावेज़ में ठोस नीति प्रस्ताव और सुझाव शामिल हैं जो यूरोप के भविष्य पर काथलिक युवा सम्मेलन के दौरान उभरे, जिसे इस साल जून में कोमिचे द्वारा आयोजित किया गया था। सम्मेलन में करीब 100 से अधिक युवा प्रतिनिधियों ने भाग लिया था।

यूरोप के भविष्य पर 3 वेबिनार

यूरोप के भविष्य की पृष्टभूमि पर सभा 3, 10 और 17 जून को ऑनलाईन आयोजित की गई थी। व्यापक सार्वजनिक बहस प्रक्रिया में यूरोपीय नागरिक, संस्थाएँ और संगठन शामिल थे ताकि संघ में बदलाव लाया जा सके तथा यह आज कोविड-19 संकट के बाद की चुनौतियों का सामना कर सके। प्रक्रिया की शुरूआत 9 मई 2021 (यूरोपीय दिवस) को हुई थी। यूरोप को दिये अपने संदेश में संत पापा फ्राँसिस ने काथलिक यूवाओं को तीन बातें बतलायी थीं- उचित सामाजिक सुधार, पारिस्थितिक और डिजिटल बदलाव और लोकतंत्र एवं यूरोपीय मूल्य।  

वंचित समूहों के युवाओं के लिए सहायता

कोमिचे द्वारा 9 सितम्बर को प्रकाशित 13 पृष्टों के रिपोर्ट में सम्मेलन के मुख्य परिणाम को प्रस्तुत किया गया है तथा यूरोप के काथलिक युवाओं की आकांक्षाओं एवं चिंताओं के आलोक में युवाओं के भविष्य एवं संघ के भविष्य पर प्रकाश डाला गया है।

उचित सामाजिक सुधार के संबंध में प्रतिभागियों ने अधिक अंतर-पीढ़ी और अंतर-क्षेत्रीय एकात्मता एवं भाईचारा पर जोर दिया है ताकि कोई भी पीछे न छूटे। युवा रोजगार, शिक्षा, क्षमता विकास और आजीवन सीखने आदि मुद्दों पर भी ध्यान आकृष्ट किया है। अन्य बातों में उन्होंने वंचित समूहों का समर्थन करने पर जोर दिया है ताकि वे विनिमय कार्यक्रम, क्षमता विकास कोर्स एवं समावेशी और टिकाऊ डिजिटल प्रौद्योगिकियों और बुनियादी ढांचे के विकास में योगदान दें। प्रतिभागियों ने परिवार-उन्मुख नीतियों का भी आह्वान किया है ताकि लोग अपने परिवार के साथ समय व्यतीत कर सकें और आप्रवासियों लोगों का बेहतर स्वागत एवं एकीकरण हेतु "दान और समर्थन की संस्कृति" विकसित की जा सकें।

स्थिरता एवं हमारे आमघर की देखभाल

पारिस्थितिक और डिजिटल बदलाव के संबंध में रिपोर्ट, दैनिक जीवन में समग्र पारिस्थितिक को बढ़ावा देने, सतत् डिजिटल समाज और उपभोक्ताओं एवं लोगों के डिजिटल अधिकार की रक्षा की अत्यावश्यकता को प्रस्तुत करता है। रिपोर्ट में यूरोपीय संघ को आगामी जलवायु परिवर्तन सम्मेलन (कोप 26) में अधिक सतत् समाज के निर्माण हेतु वैश्विक नायक की भूमिका अदा करने का आह्वान किया है।  

ख्रीस्तीय मूल्यों को बढ़ावा

लोकतंत्र और यूरोपीय मूल्यों के संबंध में सम्मेलन के प्रतिभागियों ने लोकतंत्रिक प्रक्रिया में अधिक युवाओं को शामिल करने पर जोर दिया है, खासकर, निर्णय लेने में जो युवाओं पर सीधा प्रभाव डालता है। उन्होंने यूरोपीय संघ और उसके काम पर जनता को सूचित करने एवं दुष्प्रचार को रोकने के महत्व पर जोर दिया। उन्होंने नई यूरोपीय पीढ़ियों को एकजुटता, बंधुत्व और सम्मान के ख्रीस्तीय और लोकतांत्रिक मूल्यों पर शिक्षित करने की आवश्यकता पर बल दिया तथा यूरोपीय संस्थानों और विश्वासी समुदायों के बीच घनिष्ठ सहयोग का आह्वान किया।

कार्डिनल होलरिक ˸ "आप यूरोप के वर्तमान हैं"

सम्मेलन पर टिप्पणी करते हुए कोमिचे अध्यक्ष कार्डिनल जीन क्लौदे होलरिक येसु समाजी ने प्रतिभागियों पर गहरी आस्था एवं भरोसा व्यक्त की है कि युवा हमारे समय के सबसे महत्वपूर्ण मुद्दों का सामना एवं समाधान कर पायेंगे। उन्होंने युवाओं से कहा, "आप न केवल यूरोप के भविष्य हैं बल्कि आप यूरोप के वर्तमान भी हैं। आप अपने अनुभव, ज्ञान और आशा से एक बेहतर भविष्य का निर्माण कर सकते हैं न केवल यूरोप और यूरोपीय लोगों के लिए बल्कि इस विश्व के भाई–बहनों के लिए।"

 

21 September 2021, 17:00