खोज

Vatican News
नाईजीरिया के सोकोतो का सिटी गेट नाईजीरिया के सोकोतो का सिटी गेट  (AFP or licensors)

सोकोतो राज्य में एक हमला में दर्जनों मारे गये

नाईजीरिया के उत्तरी राज्य सोकोतो स्थित गोरोन्या बाजार में बंदुकधारियों द्वारा किये गये हमले में 43 लोगों के मौत की पुष्टि हुई है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

नाईजीरिया, मंगलवार, 19 अक्तूबर 2021 (वीएनएस)- सोमवार को अधिकारियों ने कहा है कि नाईजीरिया के गोरोन्या में बंदुकधारियों के हमले में कम से कम 43 लोग मारे गये हैं।

नये रिपोर्ट में कहा गया है कि हमला रविवार को गोरोन्या साप्ताहिक बाजार में शुरू हुआ और सोमवार सुबह तक जारी रहा।

सरकार की प्रतिक्रिया

हत्या पर नाईजीरिया के राष्ट्रपति मुहम्मदू बुहारी ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए गुण्डों को एक संदेश भेजा एवं चेतावनी दी है कि अंतिम विनाश की उनकी घड़ी निकट है और उन्हें छिपने के लिए कोई जगह नहीं मिलेगी।  

प्रवक्ता गरबा शेहू ने एक बयान में उन्होंने जोर देकर कहा कि गुण्डे "हमारे सुरक्षा बलों द्वारा उनके ठिकानों में उनके खिलाफ तीव्र और निरंतर हवाई एवं जमीनी अभियानों के कारण डाकू "वर्तमान में बहुत दबाव में हैं।"

बुहारी ने कहा, "गुण्डों के द्वारा निर्दोष लोगों पर कायरतापूर्ण हमला दबाव में अपराधियों की एक चंडावल कार्रवाई को दिखाता है किन्तु उनके छिपने के लिए कोई स्थान नहीं होगा और हमारे वीर सुरक्षा बल मानवता के इन क्रूर दुश्मनों को हराने के लिए मौजूदा हमले में पीछे नहीं हटेंगे।”

नाईजीरिया में सुरक्षा

बंदूकधारियों, जिन्हें स्थानीय रूप से उत्तर-पश्चिमी नाइजीरिया में डाकुओं के रूप में जाना जाता है, हाल के दिनों में कई लोगों को मार डाला है और फिरौती के लिए दर्जनों लोगों का अपहरण कर लिया है, इस तरह एक बढ़ते सुरक्षा संकट ने नाइजीरियाई सरकार को परेशान कर दिया है।

8 अक्टूबर को साबोन बिरनी जिला में दूसरे गाँव बाजार में छापा मारा गया था जिसमें नाईजीरिया के 19 लोगों की मौत हो गई थी।

पिछला महीना कडुना के कौरा स्थित माडामाई गाँव में गुण्डों ने 34 लोगों को मार डाला था।

इन हमलों और अपहरणों में कलीसिया को भी नहीं छोड़ा जा रहा है। पुरोहितों एवं गुरूकुल छात्रों के अपहरण की घटना बढ़ी है। 11 अक्टूबर को हथियाबंद गुण्डों ने कफनचन के काथलिक धर्मप्रांत के ख्राईस्ट द किंग मेजर सेमिनरी पर हमला किया था और तीन सेमिनरी के छात्रों का अपहरण कर लिया था। उन्हें अपहरण के 48 घंटे बाद रिहा कर दिया गया था। उत्तरी नाईजीरिया के कई राज्यों में सरकार ने गुण्डों की गतिविधियों को रोकने के लिए कदम उठाया है।

19 October 2021, 17:05