खोज

Vatican News
रोजरी प्रार्थना रोजरी प्रार्थना 

"दस लाख बच्चे रोजरी प्रार्थना करते हुए" शांति के लिए अभियान

18 अक्टूबर को वार्षिक पहल का आयोजन ‘एड टू द चर्च इन नीड’ (जरुरतमंद कलीसिया को सहायता) (एसीएन) द्वारा किया जाता है, जो एक परमधर्मपीठीय संगठन है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 18 अक्टूबर 2021 वाटिकन न्यूज : दुनिया भर के बच्चे अपने समकक्षों को दुनिया में शांति और एकता के लिए एक रोजरी माला प्रार्थना अभियान में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं। 18 अक्टूबर को आयोजित होने वाले इस वर्ष की पहल, "दस मिलियन बच्चे प्रार्थना करते हुए रोज़री" में 181,000 से अधिक बच्चे पहले ही नामांकित हो चुके हैं। वार्षिक अभियान एड टू द चर्च इन नीड (एसीएन) द्वारा आयोजित किया जाता है, जो एक अंतरराष्ट्रीय काथलिक प्रेरितिक सहायता संगठन है, जो दुनिया भर में 140 से अधिक देशों में 5,000 से अधिक परियोजनाओं को वित्तीय सहायता प्रदान करता है।

दुनिया भर के धर्मप्रांतों, मिशन और पल्लियों के ईमेल और संदेश एसीएन के राष्ट्रीय प्रतिनिधिमंडलों और प्रधान कार्यालय में आ रहे हैं, जिससे उम्मीद है कि प्रतिभागियों की आधिकारिक संख्या पिछले साल की तुलना में अधिक होगी।

म्यांमार, अफगानिस्तान, दक्षिण सूडान, जाम्बिया, कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य, लेबनान, इक्वाडोर, पेरू, कजाकिस्तान और बोस्निया और हर्जेगोविना सहित 50 से अधिक देशों ने अपनी भागीदारी की पुष्टि की है।

म्यांमार से गवाही

म्यांमार में एक धर्मप्रांत के एक हालिया संदेश में विश्वास व्यक्त किया गया है कि रोजरी माला की प्रार्थना देश के पीड़ित समुदायों के बीच आशा ला सकती है। इसमें लिखा है: "मैं आपको दुनिया भर में प्रार्थना अभियान, 'एक मिलियन बच्चे प्रार्थना की माला' में भाग लेने के लिए आमंत्रित करने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद देता हूँ।" एक स्थानीय कलीसिया नेता ने सुरक्षा कारणों से नाम न छापने का अनुरोध करते हुए कहा, "मैंने सभी पल्ली पुरोहितों को पल्ली में विश्वासियों को संगठित करने के लिए अधिसूचना भेज दी है।"

इस वर्ष की पहल को संत पापा के विश्वव्यापी प्रार्थना नेटवर्क, फातिमा के विश्व प्रेरिताई और फातिमा के मारियम तीर्थालय द्वारा समर्थित किया जा रहा है, जो कि रोजरी माला से घनिष्ठ रूप से जुड़ा हुआ है।

इक्वाडोर

एक अन्य संदेश में, अमेजोनियन इक्वाडोर में अगुआरिको के विकारिएट अपोस्टोलिक के धर्माध्यक्ष जोस एडलबर्टो जिमेनेज मेंडोज़ा ने पहल के लिए अपनी प्रतिबद्धता की प्रतिज्ञा की और एसीएन को सूचित किया कि कम से कम 2500 बच्चे भाग लेंगे, यदि इसमें परिवार के सदस्यों को शामिल किया जाए तो यह संख्या 7500 तक बढ़ने की उम्मीद है।

बच्चों की प्रार्थना की शक्ति

"दस लाख बच्चे प्रार्थना करते हैं" अभियान का विचार 2005 में वेनेजुएला की राजधानी काराकस में पैदा हुआ था। जब कई बच्चे रास्ते के किनारे तीर्थालय में रोजरी माला की प्रार्थना कर रहे थे, वहां मौजूद कुछ महिलाओं को कुवांरी माता मरियम की उपस्थिति का गहरा अनुभव था। उन्होंने संत पाद्रे पियो के शब्दों को याद किया, जिन्होंने बच्चों के एक समूह को रोजरी प्रार्थना करते देखकर टिप्पणी की: "जब दस लाख बच्चे माला की प्रार्थना करते हैं, तो दुनिया बदल जाएगी।"

येस के घावों से धन्य, प्रसिद्ध इतालवी फ्रांसिस्कन पुरोहित संत पाद्रे पियो ने दिन में कई बार रोजरी माला की प्रार्थना की। 1968 में अपनी मृत्यु से पहले, उन्होंने अपने भाई पुरोहितों से यह कहते हुए माला प्रार्थना करने का आग्रह किया: "माता मरियम से प्यार करें और उन्हें प्यार करने दें। दिन में जितना अधिक हो सके रोजरी माला की प्रार्थना करें।

अभियान तेजी से दुनिया भर में फैल गया और 2008 से एसीएन इसका समर्थन कर रहा है और दो साल पहले संगठन के पूरे आयोजन को संभाला।

"माला की प्रार्थना करते हुए दस लाख बच्चे" अक्टूबर में आयोजित किया जाता है, जो माला को समर्पित महीना है। यह 18 अक्टूबर को संत लूकस के पर्व को चिह्नित करने के लिए मनाया जाता है, जिसने सुसमाचार में येसु के बचपन के बारे में कहा है। कम से कम दस लाख आधिकारिक रूप से पंजीकृत प्रतिभागियों तक पहुंचने के उद्देश्य से, इस पहल में भाग लेने वालों की संख्या हर साल बढ़ रही है।

इस वर्ष पहल संत जोसेफ पर केंद्रित है, संत जोसेफ के वर्तमान वर्ष को चिह्नित करने के लिए संत पापा फ्राँसिस के प्रेरितिक पत्र पाट्रिस कॉर्डे ("एक पिता के दिल के साथ") के उद्धरणों के साथ, जो 8 दिसंबर 2021 को समाप्त होगा। एसीएन इंटरनेशनल के अध्यक्ष कार्डिनल पियासेंज़ा कहते हैं कि इस वर्ष का अभियान "माता मरियम के साथ और संत जोसेफ के संरक्षण में" बच्चों को रोजरी प्रार्थना करने के लिए प्रोत्साहित करेगा।

18 October 2021, 16:27